jueves, 2 de junio de 2011

लिंग छोटा है? उसे विशालता का अनुभव कराएं

इसके बारे में आगे कुछ भी बताने से पहले यह बता दें कि सेक्स क्रिया में लिंग की लंबाई कोई खास महत्व नहीं रखती. यह महज एक दिमागी फितूर है.
यदि आपके पति/पार्टनर का लिंग छोटा है – और वह इस हीन भावना से ग्रस्त है कि सामान्यतौर पर उत्तेजित लिंग का आकार पांच से छः इंच होता है. ऐसे में कुछ ऐसे तरीके है जिनके प्रयोग से इन परिस्थितियों के बाद भी शानदार सेक्स क्रिया की जा सकती है साथ ही उसे यह बताएं कि वह 110 फीसदी पुरुष है. . . और उसकी विशालता में कोई कमी नहीं.

सेक्स प्ले में समय लगाना
लंबे समय तक की गई सेक्स पूर्व क्रिया हमेशा किसी महिला के लिये महत्वपूर्ण होती है. जितना लंबा फोरप्ले होगा सेक्स के दौरान चरमोत्कर्ष प्राप्त करना उतना ही आसान और बेहतर होगा. यदि उसका लिंग छोटा है तो ऐसे में धीरे-धीरे लिंग से खिलवाड़ करें वह भी ज्यादा से ज्यादा हो सके तो मुंह और हाथों का प्रयोग करें. आप यह प्रदर्शित करें कि वह आप को संतुष्ट कर सकता है. उसे यह दिखाएं और बताएं कि जब वह आपके साथ मुख मैथुन(oral sex) या हस्त मैथुन(masturbates) करता है तो कितना आनंद आता है, लेकिन उसे यह स्पष्ट कर दें कि आप यह सब लिंग की लंबाई छोटी होने की वजह से नहीं कर रही हैं. यदि उसे यह पता चल जाता है कि वह आप को इस लंबाई में भी संतुष्ट कर सकता है तो काफी अच्छा महसूस करेगा साथ ही उसमें एक सामान्य प्रेमी की तरह आत्म विश्वास जागृत हो जाएगा और तब उसका आकार वास्तव में महत्वपूर्ण नहीं रह जाएगा. वैसे भी वैज्ञानिक शोधों से यह स्पष्ट हो चुका है कि सेक्स क्रिया में लिंग का छोटा आकार कोई मायने नहीं रखता.

नीचे जाएं
उसे शानदार तरीके से मुख मैथुन का आनंद दें, इससे उसे सुखद शारीरिक अनुभूति तो होगी ही इस तरह से आप उसके लिंग की प्रशंसा कर सकते हैं. जब वह आपको नीचे जाकर खिलवाड़ करते हुए देखेगा तो उसे लगेगा कि ऐसा करके आप उसकी अमूल्य संपत्ति का मूल्य बढ़ा रही हैं. ओरल सेक्स से उसे कल्पनातीत आनंद मिलेगा क्योंकि एक छोटे लिंग में भी उतनी ही आनंद ग्रंथियां होती है जितनी औसत आकार के लिंग में होती है. ऐसा करते देख प्रतिउत्तर में वह भी आपको एक बेहतर ओरल सेक्स का आनंद देगा.
जब आप उसके साथ ओरल सेक्स कर रहीं हो, तब आप अपने हाथों का प्रयोग उसके लिंग की चमड़ी को नीचे की ओर खींचे. चमड़ी का नीचे खींचना उसे बड़ा होने का आभाष कराएगा. बीच-बीच में उसके पेरिनियम क्षेत्र में भी उंगलियां घुमा कर उसे उत्तेजना का आनंद दें. इन तरीकों से पुरुषों में अपने बड़े होने का अहसास होता है.

गहरी सेक्स पोजीशन चुने
यदि उसके छोटा लिंग है तो सेक्स क्रिया के लिये ऐसी पोजीशन चुने जिसमें लिंग गहराई तक जाता है. मिशनरी पोजीशन इनके लिये उपयुक्त नहीं रहती है. ऐसे में महिलाएं पुरुष के उपर हों और पीछे से प्रवेश का तरीका अपनाएं. इसमें महिला अपनी पीठ पुरुष की ओर करके बैठे और पुरुष पीठ के बल लेट जाए. इस अवस्था में लिंग का प्रवेश जब योनि में होगा तो वह अपनी पूरी गहराई तक जाएगा. इसी तरह महिला पीठ के बल लेट जाए और अपने पैर घुटनों से मोड़ कर पैरों को पीछे खींच ले. इस अवस्था में अपनी हिप के नीचे वह तकिया लगा ले. इस अवस्था में पुरुष का प्रवेश काफी गहराई तक होता है. इस तरह की सेक्स पोजीशन का प्रयोग दोनों को असीम आनंद के साथ बेहतरीन चरमोत्कर्ष दे सकता है. लेकिन यहां यह जरूर ध्यान रखें की गहराई उतनी महत्वपूर्ण नहीं होती. इस दौरान महत्वपूर्ण यह होता है कि सेक्स के दौरान ज्यादा से ज्यादा भग शिश्न का क्षेत्र रगड़ खाए. इसके लिये वह चाहे तो अपनी प्युबिक बोन से उसे रगड़ सकता है या फिर आप स्वयं इस दौरान अपने भगशिश्न को अपने हाथों से सहला सकती हैं.

उसे कस कर जकड़ें
अपने वस्ति प्रदेश(pelvic floor) को आधार बना कर काम करें और वहां की मसल्स को तनाव(tone) दें. इसके लिये अपनी योनि में उंगली डाल कर पीसी मसल्स खोजें. फिर उसे कसाव देने का प्रयास करें. यह क्रिया लगातार दोहराए जब तक कि आप पीसी मसल्स को अपनी इच्छा से कस(tight) और ढीला नहीं कर लेते. ऐसे में सेक्स के दौरान आप उसके लिंग को इस प्रक्रिया से कस कर जकड़ सकती हैं.यहां यह भी ध्यान में रखने वाली बात है कि आप सेक्स के दौरान ‘कम खुली’ पोजीशन अपना कर भी अपनी योनि को कसाव दे सकती हैं. इसके लिये पीछे से प्रवेश(rear-entry) पोजीशन के दौरान अपने पैरों को सीधा करके क्रास कर लें(देखें चित्र). या फिर जब पुरुष उपर हो और दोनो का चेहरा एक दूसरे के सामने हो(face-to-face Position) तब आप अपनी एक टांग उपर उठा लें दूसरी सीधी रखे. साथ ही सेक्स क्रिया के दौरान अपना दिमाग अपनी योनि की पहली दो या तीन इंच की गहराई पर जमाएं तथा खुद और उसे भी उस स्थान पर एकाग्रचित्त कार्य करने को कहें.

उसकी ओर गर्व से देखें
सेक्स के अलावा भी जब आप उसके साथ हो उसे इस तरह से देखें जैसे उसे पाकर आप गौरवान्वित हैं. जब भी आप कभी बाहर जाएं तो उसे यह जरूर बताएं कि आपके लिये उसकी कितनी अहमियत हैं. और आप उसे दिलों जान से चाहती हैं. उसके दोस्तों के सामने उसकी बेहतर बातों पर चर्चा करें जिससे उसका पुरुषोचित इगो जागेगा. इस तरह की कई बाते हैं जिसके आधार पर आप उसके जेहन में भरी छोटी लिंग की मानसिक कमजोरी को दूर कर सकती हैं. साथ ही जब आप दोनों अकेले हों तो चर्चा के दौरान आप उसे बता सकती हैं कि आपके लिये उसकी लिंग की लंबाई महत्वपूर्ण नहीं है और सेक्स के दौरान लिंग की लंबाई का कोई खास महत्व नहीं रहता.

तुलना न करें
अपने पिछले पार्टनर के बारे में चर्चा न करें- बल्कि हो सके तो यह चर्चा आपको किसी से नहीं करनी चाहिए. इसके अलावा अपने पति/पार्टनर से अपने किसी पुरुष मित्र की कोई भी चर्चा करने से बचना चाहिए. पुरुषोचित गुणों की वजह से आदमी इसे अपनी तुलना के रूप में देखते हैं. कई बार छोटे लिंग वाले पुरुष के सामने यदि किसी अन्य पुरुष की चर्चा की जाती है तो उसे अपने तुलनात्मक रूप में देखते हैं. क्योंकि उन्हें मालुम नहीं होता है कि सेक्स के दौरान लिंग की लंबाई उतना महत्व नहीं रखती है.

सराहना में कमी न करें
जब सेक्स कर रहे हों या फिर अपनी सेक्सुअल लाइफ पर चर्चा कर रहें हो तो उसे बताएं कि वह क्या कर सकता है जो आपको बेहद पसंद है या जो आपको प्रशंसनीय लगता है. जैसे ‘मुझे यह अच्छा लगता है जब तुम ………. ’ इस तरह के वाक्य उसमें सकारात्मकता लाते हैं. साथ ही ऐसा करने से आपको भी आनंद आएगा. यहां सिर्फ शब्द ही नहीं हैं जो आपको बोलने हैं. यदि वह ऐसा कुछ करता है जिससे आप उत्तेजित होती हैं तो आवाज से अपने संतुष्ट होने का संकेत दें. इसके अलावा अपने शरीर को हिला डुला कर ऐसे एडजस्ट करें जिससे यह साफ आभास हो कि आप उसे और ज्यादा कुछ के लिये कह रहीं हैं. उसके शरीर की ओर कामुक नजरों से देखें साथ में यही नजर उसके लिंग पर भी हो. उससे कुछ इस तरह के वाक्य कहें- तुम्हें निर्वस्त्र (…) देख कर मेरे मन में प्यार (…) उमड़ता है… आदि कुछ इन तरीकों से उसका विश्वास तेजी से बढेगा और वह एक बेहतरीन पति/प्रेमी साबित होगा.

No hay comentarios:

Publicar un comentario en la entrada